प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के कोरोनावायरस (coronavirus) के खतरे को देखते हुए लॉकडाउन करने की घोषणा के बाद बुधवार से देश की 130 करोड़ की जनता तीन हफ्तों के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगी.
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस की वजह से देश में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है
  • मंगलवार को देश के नाम संबोधन में उन्होंने कहा कि ये 21 दिन बहुत जरूरी हैं, वर्ना देश 21 वर्ष पीछे हो जाएगा
  • साथ ही पीएम ने देशवासियों को आश्वस्त किया कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों से कोरोना वायरस से फैल रहे संक्रमण की गंभीरता को समझने और घरों में रहने की अपील करते हुए मंगलवार आधी रात से अगले 21 दिन तक देशभर में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है। इस फैसले को एक तरह से कर्फ्यू घोषित करते हुए उन्होंने आगाह किया कि कोरोना वायरस के संक्रमण चक्र को तोड़ने के लिए अगर इन 21 दिनों में नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा।
कोरोना वायरस लॉकडाउन: पीएम नरेंद्र मोदी चाहते हैं 3 हफ्तों के लिए पूरा देश 8 बातों को करें फॉलो
कोरोना वायरस लॉकडाउन: पीएम नरेंद्र मोदी चाहते हैं 3 हफ्तों के लिए पूरा देश 8 बातों को करें फॉलो
दुनियाभर में कोरोना वायरस के फैलने और भारत में इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ने के बीच एक सप्ताह के भीतर राष्ट्र के नाम अपने दूसरे संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमें कोरोना वायरस के फैसले की सीरीज को तोड़ना है। आज के फैसले के तहत तीन सप्ताह के देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है और आपको समझना है कि आपका घर से निकलने वाला एक कदम कोरोना को घर में ला सकता है।’

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

1. देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है. अब तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 562 हो गई है. इसे देखते हुए प्रधानमंत्री ने लोगों से सामाजिक मेलजोल से दूर रहने का आग्रह किया है. हालांकि राहत की बात यह है कि 41 लोग इस बीमारी से ठीक हुए हैं. इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 11 हो गई है. 

2. लॉकडाउन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने हेल्पलाइन सेंटर बनाया है. ये हेल्पलाइन सेंटर 24 घण्टे काम करेगा. आम लोग लॉकडाउन के दौरान अपनी समस्या बता सकते हैं या इससे जुड़ा कोई सवाल पूछ सकते हैं.  डीसीपी आसिफ मोदम्मद अली इस हेल्पलाइन सेंटर को हेड करेंगे. लॉकडाउन और पुलिस से जुड़े अपडेट भी इस हेल्पलाइन सेंटर के जरिए समय समय पर दिए जाएंगे. इसका हेल्पलाइन सेंटर का नम्बर 011-23469526 है.

3. केंद्रीय मंत्री उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने बुधवार को कहा कि सरकार कोरोनावायरस के खतरे से उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता पर लगातार नजर बनाए हुए है और सभी राज्य सरकारों के संपर्क में है ताकि कहीं भी किसी चीज की किल्लत न हो. सभी उत्पादकों और व्यापारियों से भी अपील है कि इस घड़ी में मुनाफाखोरी से बचें.

4. PM मोदी ने बुधवार सुबह ट्वीट में कहा, "आज से नवरात्रि शुरू हो रही है. वर्षों से मैं मां की आराधना करता आ रहा हूं. इस बार की साधना मैं मानवता की उपासना करने वाले सभी नर्स, डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी और मीडियाकर्मी, जो कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जुटे हैं, के उत्तम स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं सिद्धि को समर्पित करता हूं."

5. कोरोनावायरस के खिलाफ जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में सेना ने मोर्चा संभाला लिया है. इससे बचने के लिए जम्मू कश्मीर और लद्दाख में सेना ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं. इन नंबरों के द्वारा लोगों के सवालों के जवाब दिए जाएंगे और साथ ही इस वायरस से संबंधित अपडेट भी दिए जाएंगे. श्रीनगर (0194- 2467326) ,बारामूला - 0195- 2238826, कुपवाड़ा -0195 -5252996, शालाटंग -0194-2496618, अवंतीपोरा- 0193 -3247087, नगरोटा - 0191-2547896, अखनूर- 0192-4254244, राजौरी-0196-2262477, बटोट - 0199 -8244361, पलमा - 0196 -2261503, रियासी -0199- 1245319 और नारियां के लिये - 0196 -0230026 हेल्प लाइन जारी किये गये है. वहीं केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के लेह के लिए 01982-259011, कारू -01982 -249078 , कुम्बथांग - 01935-278113 और परतापुर के लिये 01980 -221013 नंबर जारी किये गये है.

6. बीएमसी ने हेल्पलाइन शुरू की है. अगर किसी को संदेह है तो वो फोन कर शंका का समाधान कर सकता है डॉ बताएंगे कि कोरोना टेस्ट की जरूरत है या नही.

7. इस बीच, दिल्ली सरकार ने डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्यकर्मियों को घर खाली करने के लिए मजबूर करने वाले मकान मालिकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए सभी डीएम समेत अन्य अधिकारियों को कहा है. 

8. कोरोना वायरस से संक्रमित 54 वर्षीय व्यक्ति की बुधवार तड़के मदुरै के एक अस्पताल में मौत हो गई. तमिलनाडु में इस संक्रामक रोग से मौत का यह पहला मामला है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर ने ट्वीट करके बताया, ‘हमारी पूरी कोशिश के बावजूद एमडीयू, राजाजी अस्पताल में कोविड-19 संक्रमित मरीज की मौत हो गई. उसे फेफड़ों, अनियंत्रित मधुमेह और उच्च रक्तचाप की बीमारी थी.' राज्य में मंगलवार को कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 18 हो गए. तीन महिलाओं समेत छह और लोग संक्रमित पाए गए.

9. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोनावायरस के संकट से निपटने में जुटे स्वास्थ्यकर्मियों एवं अन्य लोगों का आभार प्रकट करते हुए मंगलवार को कहा कि सभी लोगों को सरकार के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए सामाजिक मेलजोल से दूर रहना चाहिए. उन्होंने एक संदेश में लोगों से यह अपील भी की कि वे संकट के इस समय में समाज के कमजोर लोगों, दिव्यांगों और बुजुर्गों की हर संभव मदद करें.

10. लॉकडाउन के दौरान बैंक, बीमा कार्यालय, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया खुले रहेंगे. अस्पताल, नर्सिंग होम, पुलिस, दमकल केंद्र, एटीएम काम करते रहेंगे. ई-कॉमर्स के जरिए दवा, मेडिकल उपरकरण की डिलवरी जारी रहेगी. पेट्रोल पंप, एलपीजी पंप, गैस रिटेल खुले रहेंगे. इंटरनेट, ब्रॉडकास्ट और केबल सर्विस चालू रहेगी.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आज रात 12 बजे से पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है।’ राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद अपने ट्वीट में मोदी ने कहा, ‘मेरे देशवासियों, घबराने की कोई जरूरत नहीं है। आवश्यक वस्तुएं, दवाएं आदि उपलब्ध होंगे। केंद्र और विभिन्न राज्य सरकार करीबी समन्वय से इस दिशा में काम कर रही है।’ लोगों से सरकार के निर्देशों का पालन करने की अपील करते हुए मोदी ने कहा, ‘जान है तो जहान है।’ इस दौरान जिन बातों को पीएम ने कहा आइए जानें, उनके अनुसार हमें किन बातों का ध्यान रखना है...

1. 21 दिनों के लिए अपने घरों से बाहर कोई काम न करें
2. सामाजिक दूरी बनाकर रखें
3. अफवाह न फैलाएं और न फैलने दें
4. पैनिक न हों
5. अपना और परिवार के सदस्यों का ख्याल रखें
6. डॉक्टरों की सलाह के बिना दवाएं न लें
7. अंधविश्वास में विश्वास न करें
8. पुलिस, स्वास्थ्य पेशेवरों और अन्य श्रमिकों जैसे आवश्यक सेवा प्रदाताओं के लिए प्रार्थना करें

वस्तुओं की किल्लत नहीं, भयभीत होने की जरूरत नहीं: शाह

दूसरी ओर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों को आश्वस्त किया कि मध्य रात्रि से शुरू हो रहे 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की कोई किल्लत नहीं होगी। कई ट्वीट कर उन्होंने लोगों से अपील की कि वे भयभीत नहीं हों क्योंकि पूरा देश कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एकजुट है। शाह ने कहा, ‘मैं देशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि देश में बंद के दौरान आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं होगी।’